कश्मिरा, तुलसीराम और नीरज ने जीती दिव्यांगों की संगीत प्रतियोगिता

दिव्यांगों में ईश्वर प्रदत्त प्रतिभा होती है, जिसे निखारने के लिए प्रतियोगिताओं के माध्यम से अवसर प्रदान करने से उनमें और निखार आता है। हम दिव्यांगों से प्रेरणा लें और उन्हें सम्मानित करें।
उक्त बातें विभिन्न वक्ताओं ने अभिनव कला समाज सभागार में नेशनल एसोसिएशन फॉर द ब्लाइंड संस्था द्वारा रोटरी क्लब ऑफ प्रोफेशनल के सहयोग से आयोजित दिव्यांगों के संगीत प्रतियोगिताओं के अवसर पर व्यक्त की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अभिनव कला समाज के अध्यक्ष प्रवीण कुमार खारीवाल ने कहा कि अभिनव कला समाज 74 वर्ष पुरानी सांस्कृतिक संस्था है, जहां देश के जाने-माने गायकों और वादकों ने अपनी प्रस्तुति दी है। आज इस मंच से दिव्यांगों द्वारा गीत-संगीत का कार्यक्रम आयोजित करना सराहनीय प्रयत्न है। श्री खारीवाल ने कहा कि दृष्टिबाधितों में बहुत प्रतिभा है उसे निखारने की आवश्यकता है। ऐसे आयोजनों में स्टेट प्रेस क्लब का सदैव सहयोग रहेगा। अध्यक्षता करते हुए वरिष्ठ सीए राजेन्द्र गोयल ने कहा कि हम दिव्यांगों से प्रेरणा ले और अपनी क्षमता का विकास करें। कार्यक्रम के विशेष अतिथि रोटरी क्लब ऑफ प्रोफेशनल के अध्यक्ष विवेक तांतेड ने कहा कि रोटरी क्लब सेवाभावी कार्यक्रम में सहयोग देती रही है। दृष्टिबाधितों की गीत-संगीत प्रतियोगिता कलाकारों को आगे बढ़ाने के लिए बेहतर मंच है। प्रतियोगिताओं में विभिन्न संस्थाओं के 33 दृष्टिबाधित विद्यार्थियों ने भाग लिया। प्रतियोगिता के गायन वर्ग में प्रथम तुलसीराम, द्वितीय सुनील कारपेंटर, तृतीय आयुष रहे। गायन में बालिका वर्ग में प्रथम कश्मिरा अंसारी, द्वितीय भावना एकले, तृतीय नाजिया खान रहीं। वादन प्रतियोगिता में प्रथम नीरज पंवार, द्वितीय संजय चौहान, तृतीय रविकांत विश्वकर्मा रहे। प्रतियोगिता के निर्णायक प्रकाश पेठनकर तथा इंजी. अनिता वर्मा थे। गीत-संगीत स्पर्धा में रोटरी क्लब प्रोफेशन इंदौर द्वारा स्मृति चिन्ह एवं नकद पुरस्कार प्रदान किए। प्रारंभ में संस्था के रमेश जैन, दिनेश शाह, फादर पायस तथा रोटेरियन रिंकेश शाह ने अतिथियों का स्वागत किया। संतोष मोहंती ने स्वागत भाषण तथा संस्था की गतिविधियों की जानकारी दी। संचालन शफी शेख ने तथा अंत में संजय लोखंडे ने आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com