Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/indore360/public_html/wp-content/themes/digital-newspaper/inc/breadcrumb-trail/breadcrumbs.php on line 252

Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/indore360/public_html/wp-content/themes/digital-newspaper/inc/breadcrumb-trail/breadcrumbs.php on line 252

Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/indore360/public_html/wp-content/themes/digital-newspaper/inc/breadcrumb-trail/breadcrumbs.php on line 252

10 दिसम्बर को होगा पल्स पोलियो अभियान का अतिरिक्त चरण

इंदौर जिले में पल्स पोलियो अभियान का अतिरिक्त चरण 10 को आयोजित किया गया है। यह अभियान 12 दिसम्बर तक चलेगा। इस अभियान के अंतर्गत 5 वर्ष आयु तक के 5 लाख से अधिक बच्चों को पोलियो वैक्सीन की खुराक दी जायेगी। अभियान की व्यापक तैयारियां चल रही है। इसके लिये जिले में सूक्ष्म कार्य योजना तैयार की जा रही है। इस अभियान की तैयारियों के लिये कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी की अध्यक्षता में टास्क फोर्स की बैठक सम्पन्न हुई। इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री गौरव बेनल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन, अपर कलेक्टर श्री रोशन राय, श्रीमती निशा डामोर तथा श्री राजेन्द्र रघुवंशी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एस. सैत्या, सिविल सर्जन डॉ. एस.एल. सोढ़ी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। बैठक में बताया गया कि इंदौर जिले में पल्स पोलियो अभियान के इस अतिरिक्त चरण में 5 लाख से अधिक बच्चों को पोलियो निरोधक दवा पिलाई जायेगी। अभियान के पहले दिन 10 दिसम्बर को निर्धारित टीकाकरण बूथों पर तथा अन्य दो दिन 11 और 12 दिसम्बर को घर-घर जाकर पोलियो वैक्सीन की खुराक दी जायेगी। उल्लेखनीय है कि यह अभियान प्रदेश के 16 जिलों में आयोजित होगा। इस अवसर पर बताया गया कि भारत में 2011 के बाद एक भी केस पोलियो का नहीं मिला और 2014 में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत को पोलियो मुक्त घोषित कर दिया है, लेकिन भारत के पड़ोसी देश अफगानिस्तान एवं पाकिस्तान में अभी पोलियो के नए केस पाए जा रहे हैं, इसलिए भारत में सुरक्षात्मक कदम के तौर पर पल्स पोलियो अभियान अभी भी निरंतर चलाया जा रहा है। मोजाम्बिक एवं मलावी मे भी पोलियो के केस पाए गये है यह अफ्रिकन देश है, चूंकि इन्दौर में लोगों का आवागमन निरंतर बना रहता है, इसलिए इन्दौर के साथ-साथ 15 अन्य जिलों में भी यह अभियान चलाया जायेगा। प्रथम दिन 10 दिसम्बर को बूथ पर दवाई पिलाने का लक्ष्य रखा गया है, छूटे हुए बच्चों को अगले दो दिनों में घर-घर जाकर पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। इस हेतु 3500 से अधिक बूथ तथा 8000 से ज्यादा कर्मचारी अपनी सेवाऐं देगें। मुख्यतः ध्यान माईग्रेट्री जनसंख्या, मलिन बस्ती, निर्माण क्षेत्रों, घुमंतु जनसंख्या पर रहेगा। इसके साथ-साथ ही ट्रांजेक्ट स्थानों रेल्वे स्टेशन एवं बस स्टेण्ड पर 24×7 बूथ लगाए जाएंगे। इस बैठक में स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, प्रशासनिक अधिकारी, सामाजिक न्याय, रोटरी, लायन, आईएमए, आईएपी, मेडिकल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज, नेहरू युवा केन्द्र के साथ-साथ सामाजिक संगठन एवं एनजीओ के प्रतिनिधि उपस्थित थे। अभियान को सफल बनाने के लिए कलेक्टर डॉ.इलैया राजा टी ने सभी विभागों से मॉनिटरिंग करने के लिए भी निर्देशित किया, ताकि अधिक से अधिक बच्चों तक पहुंच कर अभियान की सफलता शत-प्रतिशत सुनिश्चित की जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com