Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/indore360/public_html/wp-content/themes/digital-newspaper/inc/breadcrumb-trail/breadcrumbs.php on line 252

Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/indore360/public_html/wp-content/themes/digital-newspaper/inc/breadcrumb-trail/breadcrumbs.php on line 252

Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/indore360/public_html/wp-content/themes/digital-newspaper/inc/breadcrumb-trail/breadcrumbs.php on line 252

सृजन कार्यक्रम के तहत पुलिस दीदी के 16 ग्रुप बनें

महिला अपराधों की रोकथाम एवं महिला सशक्तिकरण आदि को ध्यान में रखते हुए, सामुदायिक पुलिसिंग के तहत बालिकाओं की सुरक्षा और उन्हें सशक्त व स्वावलंबी बनाने तथा उनमें आत्मविश्वास बढ़ाने के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए, इंदौर पुलिस द्वारा सृजन-नई दिशा नया गगन का संचालन किया जा रहा है। सृजन कार्यक्रम को प्रभावी रुप से सफल बनाने व संचालित करने के लिए पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर श्री मकरंद देऊस्कर के दिशा-निर्देशन में शहर के पुलिस अधिकारियों, उर्जा डेस्क प्रभारी, बाल कल्याण अधिकारी एवं विभिन्न संस्थाओ के पदाधिकारियों के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। उक्त कार्यशाला के दौरान मुख्य अतिथि उप पुलिस महानिरीक्षक श्री विनीत कपूर, सामुदायिक पुलिसिंग/पीएसओ टु डीजीपी पुलिस मुख्यालय भोपाल, अति. पुलिस आयुक्त श्री मनोज कुमार श्रीवास्तव, पुलिस उपायुक्त मुख्यालय श्री जगदीश डाबर, अति पुलिस उपायुक्त मुख्यालय श्रीमती सीमा अलावा, सहायक पुलिस आयुक्तगण, थाना प्रभारीगण, थानों के उर्जा डेस्क प्रभारी, बाल कल्याण अधिकारी एवं विभिन्न संस्थाओ के पदाधिकारीगण तथा सृजन कार्यक्रम की कोर टीम, पुलिस अन्य पुलिस अधिकारी/कर्मचारीगण सहित विभिन्न संस्थाओ के सदस्यगण उपस्थित रहे। पुलिस उपायुक्त मुख्यालय श्री जगदीश डाबर ने उक्त सृजन कार्यक्रम की कार्य संरचना के बारे में बताया और कहा कि पुलिस टीमों द्वारा शहर की विभिन्न संस्थाओ के साथ मिलकर इसके लिये कार्य किया जा रहा है। हमने विभिन्न संस्थाओ के साथ मिलकर शहर के थानों के ऐसे स्थानों को चिन्हित किया है जहां पर महिलाओं से संबंधित अपराध, अपहरण, गुमशुदगी, घरेलु हिंसा के अपराध अधिक होते हैं। वहां पर जाकर हमारी पुलिस टीमों (पुलिस दीदी) द्वारा आंगनवाडी कार्यकर्ताओ के साथ मिलकर डोर टू डोर जाकर लगभग 32000 लोगो का सर्वे किया गया है। तथा उनसे संवाद कर उनकी समस्याओ के बारे मे पता किया। जिसमे से 12-18 साल की लगभग 2400 बालिकाओ के लिए 16 पुलिस दीदी के ग्रुप बनाये गये हैं। जिनसे बच्चियाँ संवाद कर अपनी परेशानियों को बता सके। पुलिस द्वारा विभिन्न संस्थाओ के साथ मिलकर महिला अपराधों मेंकमी लाने का प्रयास किया जा रहा है। सहायक पुलिस आयुक्त मुख्यालय/महिला सुरक्षा श्रीमती अपूर्वा किलेदार द्वारा पीपीटी के माध्यम से सृजन कार्यक्रम के दौरान किये जा रहे कार्यो के बारे मे जानकारी दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com