कोविड के नए वैरिएंट को लेकर एडवाइजरी जारी

वैश्विक महामारी के परिदृश्य में कोविड-19 के पॉजिटिव तथा एक्टिव मरीजों की संख्या में पुनः वृद्धि परिलक्षित होने के मद्देनजर तथा कोविड-19 के नवीन वेरियंट जेएन-1 को लेकर लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव द्वारा जरूरी दिशा निर्देश जारी किए गए है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने जानकारी दी कि मौसमी बीमारियों के दृष्टिगत साधारण सर्दी जुकाम वाले रोगी भी कोविड-19 के लक्षण के साथ ओपीडी में उपस्थित हो सकते हैं। समस्त संदिग्ध व्यक्ति आईएलआई लक्षण वाले जिन्होंने पिछले 14 दिनों में विदेश यात्रा की हो, जो प्रयोगशाला द्वारा पुष्टि कि किए गए केस के संपर्क में आए हो। समस्त संदिग्ध व्यक्ति जो हॉटस्पाट अथवा कन्टेंमेंट जोन के निवासी हो समस्त अस्पताल में भर्ती मरीज जिनमें आईएलआई के लक्षण प्रकट हुए हो उन सभी को अपना आटीपीसीआर टेस्ट अवश्य कराना चाहिए। अपर मुख्य सचिव ने जारी निर्देशों में कहा कि प्रशिक्षित चिकित्सकों द्वारा कोविड-19 रोगी की क्लीनिकल स्थिति का आकलित कर ऑक्सीजन की आवश्यकता, ऑक्सीजन की फ्लोदर तथा यथोचित सैचुरेशन नियंत्रित कर आक्सीजन थैरेपी का तर्कसंगत उपयोग सुनिश्चित किया जाए। अस्पतालों में बिस्तरों की उपलब्धता तथा अस्प्तालो की क्षमता के अवलोकन के लिए नियमित रूप से ड्रॉयरन का आयोजन, सभी गभीर रूप से संकमित पाए व्यक्तियों की कांटेक्ट ट्रेसिंग सुनिश्चित की जाएं। पर्याप्त वेंटेलेशन एवं मास्क का उपयोग सुनिश्चित किया जाएं। ऐसे क्षेत्र जहां कोविड के ज्यादा प्रकरण आ रहे हो वहा सर्विलेस गतिविधियों पुनःप्रारंभ की जाए। आगामी उत्सवों की तैयारियों के लिए आवश्यक है कि कार्यकम आयोजकों द्वारा भीड़ का उचिव प्रबंधन किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com